Advertisement
  • Home
  • Videos
  • corona virus इंफ़ेक्शन से बचने के लिए क्या करें क्या न करें

वुहान से शुरू हुई इस महामारी के लिए जिम्मेदार विषाणु को नॉवेल कोरोना वायरस या nCoV का नाम दिया गया है. मालूम पड़ता है कि ये कोरोना परिवार की एक  नई नस्ल है जिसकी पहचान अभी तक इंसानों में नहीं हो पाई थी. कोरोना वायरस से संक्रमण के मामलों में ऐसा लगता है कि इसकी शुरुआत बुखार से होती है और फिर  उसके बाद सूखी खांसी का हमला होता है. हफ़्ते भर तक ऐसी ही स्थिति रही तो सांस की तकलीफ़ शुरू हो जाती है. लेकिन गंभीर मामलों में ये संक्रमण निमोनिया या सार्स बन  जाता है, किडनी फेल होने की स्थिति बन जाती है और मरीज़ की मौत तक हो सकती है !

Advertisement