मीट कारोबारियों से मुलाकात के बाद बोले सीएम योगी आदित्यनाथ, किसी के साथ भेदभाव नहीं होगा

यूपी के मीट विक्रेताओं ने गुरुवार को सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की जिसके बाद अब हड़ताल ख़त्म होने के संभावना हैं. मुख्यमंत्री की हड़ताली मीट कारोबारियों के प्रतिनिधिमंडल से आधे घंटे से ज्यादा तक बातचीत चली. गुरुवार शाम योगी आदित्यनाथ और मीट विक्रेताओं की मुलाकात के बाद स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ अपने साथ मीट निर्यात संघ के सदस्यों को लेकर मीडिया से मुख़ातिब हुए. उन्होंने यकीन दिलाया कि सरकार किसी भेदभाव के आधार पर काम नहीं कर रही, जो ये करेंगे, उनके ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई होगी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मीट कारोबारियों को आश्वस्त किया कि राज्य सरकार पूर्वाग्रह से ग्रस्त होकर कोई कार्य नहीं कर रही है. अधिकारियों को निर्देश हैं कि वे किसी जाति विशेष, धर्म और चेहरे के आधार पर कार्रवाई ना करें.

प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री से उनके सरकारी आवास पर मीट कारोबारियों का ‘ऑल इण्डिया जमातुल कुरैश’ का प्रतिनिधिमण्डल मिला. प्रतिनिधिमंडल ने मीट की बिक्री के सम्बन्ध में आ रही परेशानियों और समस्याओं के बारे में मुख्यमंत्री को बताया. प्रतिनिधिमण्डल ने इस सम्बन्ध में मुख्यमंत्री को अपना ज्ञापन भी सौंपा. प्रतिनिधिमण्डल में देश के विभिन्न हिस्सों से आए प्रतिनिधि शामिल थे.

उन्होंने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री ने आधे घंटे चली बैठक में प्रतिनिधिमण्डल द्वारा बतायी गई समस्याओं और परेशानियों को ध्यानपूर्वक सुना और कहा कि यह सरकार सबकी है, जाति, पंथ, मजहब आदि के आधार पर किसी के साथ कोई भेदभाव या अन्याय नहीं होने दिया जाएगा.’’ सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधिमंडल से कहा कि यह सरकार पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर कोई काम नहीं कर रही है. अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे निष्पक्ष होकर कार्य करें और किसी विशेष जाति, धर्म व चेहरे के आधार पर कार्रवाई न करें. मंत्री ने बताया कि सकारात्मक वातावरण में हुई मुख्यमंत्री की वार्ता की प्रतिनिधिमण्डल ने सराहना की.

प्रतिनिधिमण्डल ने मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि अवैध चल रहे बूचड़खानों को बन्द करना चाहिए. प्रतिनिधिमण्डल के अनुसार मुख्यमंत्री ने आश्वस्त किया है कि इस सम्बन्ध में किसी के साथ भेदभाव नहीं होगा, पूरा इंसाफ होगा और नियमानुसार कार्य किया जाएगा. इस अवसर पर ऑल इण्डिया जमातुल कुरैश के राष्ट्रीय अध्यक्ष सिराजुद्दीन कुरैशी सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद थे. योगी सरकार द्वारा अवैध बूचड़खानों पर की जा रही कार्रवाई के फलस्वरूप मीट आपूर्ति कम होने से नाराज कारोबारियों ने पिछले तीन दिन से हड़ताल कर रखी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *