श्मशान पहुंचने से पहले ‘जिंदा’ हो उठा युवक

कर्नाटक के एक गांव में बड़ी अजीबों गरीब घटना घटी. एक लड़का जिसकी उम्र 17 साल थी, को मृत मानकर जब लोग उसे चिता पर लिटाकर श्‍मशान ले जा रहे थे तभी वह उठकर खड़ा हो गया. कुमार मारवाड़ नाम के इस लड़के को करीब एक महीने पहले आवारा कुत्ते ने काट लिया था. टाइम्‍स ऑफ इंडिया अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक इसकी वजह से करीब एक हफ्ते पहले उसे तेज बुखार हो गया. जब घर वाले उसे अस्‍पताल ले गए तो डॉक्टरों ने कह दिया इंफेक्‍शन उसके पूरे शरीर में फैल गया है बिना वेंटिलेटर के वह बच नहीं सकेगा. इसके बाद घरवाले उसे वापस घर ले आए.

कुमार के जीजा शरनप्‍पा नायकर ने बताया, 'हम लोगों ने उसे घर ले जाने का फैसला किया क्‍योंकि डॉक्‍टरों का कहना था कि वेंटिलेटर हटा लेने के बाद उसके बचने की उम्मीद बिल्कुल नही बची थी.' घर जब उसके घरवालो ने देखा कि उसके शरीर में कोई हरकत नहीं हो रही है तो उन्‍होंने उसे मृत मान लिया. रिश्‍तेदारों ने कुमार के अंतिम संस्‍कार की तैयारी कर ली और इसके लिए पास के गांव की ओर चल पड़े. श्‍मशान से करीब दो किलोमीटर पहले ही  कुमार ने अपनी आंखें खोल दीं और तेजी से सांस लेते हुए अपने हाथों और पैरों को हिलाने लगा. उसके बाद उसे तुरंत अस्‍पताल ले जाया गया जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *