‘माय नेम इज़ खान’ के लिए शाहरुख खान को मिलना चाहिए था, ऑस्कर ‘पावलो कोएलो’

शाहरुख खान को मिलना चाहिए था ऑस्कर :पावलो कोएलो

’मशहूर लेखक पावलो कोएलो ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर के ज़रिये कहा कि बॉलीवुड के किंग खान शाहरुख खान फिल्म 'माय नेम इज़ खान' मूवी  के लिए ऑस्कर अवॉर्ड के असली दावेदार थे. उन्होंने यह भी कहा कि यदि हॉलीवुड में कभी भी भेदभाव नहीं होता तो वह यह अवॉर्ड डिज़र्व करते थे. कोल्हो ने यश राज बैनर एवं करण जौहर के निर्देशन में बनी इस फिल्म की तारीफ करते हुए ट्विटर पर लिखा, कि 'उनकी पहली और इकलौती फिल्म जो मैंने देखी वह 'माय नेम इज़ खान' ही है. फिल्म तो बेहतरीन है ही लेकिन यदि हॉलीवुड में भेदभाव नहीं होता तो शाहरुख खान इस फिल्म के लिए ऑस्कर डिज़र्व करते थे. लेखक पावलो कोएलो लिखते हैं कि उन्होंने अपनी अन्य फिल्में भी मुझे दिखाने की बात कही लेकिन जैसा कि आप सभी को पता है कि स्विटजरलैंड में वे आसानी से ढूंढ पाना आसान नही है.' उन्होंने आगे शाहरुख खान को, ''माय नेम इज़ खान एंड आई एम नॉट ए टेररिस्ट' की सातवीं एनिवर्सरी के लिए बधाई भी दी.

 पढ़ें लेखक पावलो कोएलो का टवीट् :

फिल्म की सातवीं एनिवर्सरी पर शाहरुख खान ने भी ट्वीट के जरिए लिखा कि यह दुखद है कि यह फिल्म अब भी प्रासंगिक है. शाहरुख खान ने डायरेक्टर करण जौहर और फिल्म के अन्य कलाकारों को इस खास फिल्म की एनिवर्सरी पर बधाई भी दी.

फिल्म की सातवीं एनिवर्सरी पर शाहरुख खान ने भी ट्वीट के ज़रिये लिखा कि यह दुखद है कि यह फिल्म अब भी प्रासंगिक है. शाहरुख खान ने डायरेक्टर करण जौहर और फिल्म के अन्य कलाकारों को इस खास फिल्म की एनिवर्सरी पर बधाई भी दी.

फिल्म के डायरेक्टर करण जौहर ने भी फिल्म की फोटो शेयर करते हुए लिखा, ' रिज़वान... अपनी ईमानदारी और प्यार बांटने के लिए शुक्रिया.'

फिल्म की तारीफ के लिए करण ने लेखक पावलो कोएलो का भी धन्यवाद अदा किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *