गुजराती बल्लेबाज समित गोहेल ने रचा इतिहास, 117 साल पुराना वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ा

गुजरात रणजी टीम के ओपनर बल्लेबाज समित गोहेल ने मंगलवार को एक नया वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम किया. इंटरनेशनल मैच की बात करें तो टीम इंडिया की ओर से इंग्लैंड के खिलाफ 5 मैचों की टेस्ट सीरीज के अंतिम मैच में करुण नायर  ने लगभग एक सप्ताह पहले ही ट्रिपल सेंचुरी लगाकर इतिहास बना दिया था. इतिहास इसलिए क्योंकि वह भारत की ओर से ट्रिपल सेंचुरी लगाने वाले महज दूसरे बल्लेबाज हैं. उनसे आठ साल पहले वीरेंद्र सहवाग ने चेन्नई में ही 2008 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ यह कारनामा किया था.
गौरतलब है कि वीरेंद्र सहवाग  भारत की ओर से पहली ट्रिपल सेंचुरी 309 रन जमाने वाले बल्लेबाज भी हैं. उस समय वह साल 2004 में पाकिस्तान में ट्रिपल सेंचुरी लगाकर 'मुल्तान के सुल्तान' बने थे. जहां 2016 में करुण नायर टीम इंडिया के लिए चमके, वहीं रणजी ट्रॉफी में तो कई ट्रिपल सेंचुरी लग चुकी हैं. इसी कड़ी में मंगलवार को समित की रिकॉर्डतोड़ ट्रिपल सेंचुरी निकली. समित गोहेल से पहले, साल 1899 में इंग्लिश काउंटी टीम सरे के ओपनर बॉबी अबेल ने समरसेट के खिलाफ 357 रनों की पारी खेली थी और नाबाद लौटे थे. अब भारत के समित ने उन्हें पीछे छोड़ दिया है. संभवतः यह समित को भी नहीं मालूम होगा कि उन्होंने एक अनूठा वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है. समित ने एक और उपलब्धि भी हासिल की. वह फर्स्ट क्लास क्रिकेट के महज चौथे ऐसे बल्लेबाज हैं, जो ट्रिपल सेंचुरी लगाकर नाबाद लौटे हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *