अरविंद केजरीवाल ने कपिल मिश्रा को मंत्रीपद से क्यों हटाया, पढ़े पूरी खबर

दिल्‍ली में अरविंद केजरीवाल सरकार में मंत्रीपद से हटाए जाने के बाद कपिल मिश्रा ने मुखर होकर बगावत का बिगुल बजा दिया है. उन्‍होंने देर रात अपनी प्रतिक्रिया में साफ कह डाला कि दिल्‍ली के टैंकर घोटाले में उनकी रिपोर्ट में शामिल कुछ नामों को उन्‍होंने शनिवार को ही अरविंद केजरीवाल और एंटी करप्‍शन ब्‍यूरो को बता दिया था और अब वे आज (रविवार को) उन नामों का खुलासा करेंगे. इस तरह अब कपिल की तरफ से रविवार को एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के जरिये इस घोटाले के कुछ बेपर्दा राजों से पर्दा उठाया जाएगा, जिससे दिल्‍ली की सियासत गर्म होने की पूरी संभावना है.

कपिल ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि 'अभी तक मुझे मंत्रीपद से हटाए जाने को लेकर कोई आधिकारिक सूचना नहीं दी गई है'.

उन्‍होंने कहा कि 'मेरी आज दिन में (शनिवार को) दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ मुलाकात हुई थी. मैंने एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) के चीफ एमके मीणा को एक पत्र लिखा था जो मैंने सुबह ही मीडिया को जारी कर दिया था. मैंने उनसे दिल्‍ली के टैंकर घोटाले में कुछ और तथ्‍य देने के लिए वक्‍त भी मांगा था. मैंने अरविंद केजरीवाल को यह भी बोला था कि इस मामले में मेरी रिपोर्ट आए एक साल से ज्‍यादा हो चुका है.. अब मैं एसीबी को कुछ तथ्‍य जरूर जाकर दूंगा. उन्‍हें यह बात बताकर मैं अपने दफ्तर वापस आ गया था'.

(फोटो- कपिल मिश्रा द्वारा एसीबी प्रमुख एमके मीणा को लिखी गई चिट्ठी)

दिल्‍ली के उपमुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया द्वारा जल प्रबंधन ठीक न होने की वजह से उन्‍हें मंत्रीपद से हटाए जाने की बात कहे जाने पर कपिल ने कहा कि 'पूरे चुनाव के दौरान, उससे पहले या बाद में केजरीवाल या सिसोदिया के जितने भी इंटरव्‍यू और पब्लिक स्‍टेटमेंट हैं, उन्‍हें देख/सुन लिया जाए. पानी के बारे में उनके अपने बयान सुने जाएं कि वो क्‍या कहते हैं'. उन्‍होंने आगे यह भी कहा कि 'मैंने टैंकर घोटाले को लेकर जो भी नाम कहे थे, वो नाम मैं जरूर बताऊंगा और मुझे कोई नहीं रोक सकता'. यानि कपिल साफ तौर पर इस मामले में पार्टी के शीर्ष नेता केजरीवाल और सिसोदिया पर सवाल और उनके खिलाफ बगावती सुर उठाते दिख रहे हैं.

उन्‍होंने अपने ऊपर हुई इस कार्रवाई के पीछे की वजह को लेकर पूछे गए सवाल पर कहा कि 'कल (रविवार को) सुबह सारे अर्थ बताए जाएंगे'.

मिश्रा ने कहा कि 'अगर कुमार विश्‍वास का साथ देने की वजह से यह कार्रवाई की गई है तो मैंने उस दिन भी कहा था कि सच बोलेंगे... चाहे जो बलिदान ले लो. कोई डर नहीं है और कल जो सच बोलेंगे वो पूरा देश सुनेगा'.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *