2016 का आखिरी ‘मन की बात’, पीएम नरेंद्र मोदी ने 2017 के उज्जवल भविष्य की मंगल कामना की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल की आखिरी मन की बात के कार्यक्रम की शुरुआत देशवासियों को क्रिसमस की बधाई देते हुए की. उन्होंने मदन मोहन मालवीय और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को भी जन्मदिन की बधाई दी. 'मन की बात' कार्यक्रम का ये 27वां प्रसारण है. मन की बात कार्यक्रम का यह इस साल का आखिरी संस्करण है.

पीएम मोदी ने लकी ग्राहक योजना के बारे में बात करते हुए कहा कि क्रिसमस की सौगात के रूप में पंद्रह हजार लोगों को ड्रॉ सिस्टम से इनाम मिलेगा. हर एक के खाते में एक-एक हजार रुपये का इनाम जाएगा. योजना 100 दिनों तक चलने वाली है. कैशलेस माध्यमों से ग्राहकों को सामान देने वाले दुकानदारों को भी इनाम दिया जाएगा. 3000 से ज्यादा की खरीददारी करने वालों को इनाम नहीं मिलेगा. कैशलेस खरीददारी करने वाले ग्राहकों के लिए 14 अप्रैल को एक बंपर ड्रा होगा. जिसमें करोड़ों के इनाम भी मिलेंगे
पीएम ने कहा कि व्यापारियों को डिजिटल लेन-देन करने और अपने कारोबार में ऑनलाइन पेमेंट की पद्धति विकसित करने पर टैक्स में छूट मिलेगी.

प्रधानमंत्री ने कहा देश में टेक्नोलॉजी, ई-पेमेंट और ऑनलाइन पेमेंट का उपयोग करने की जागरूकता अब तेजी से बढ़ रही है उन्होंनें कहा मैं ये आशा करता हूँ कि देश के नौजवान नए आइडिया और टेक्नोलॉजी से डिजिटल मूवमेंट को बल देंगें
पीएम ने कहा कि मैं चाहता था सदन में भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ लड़ाई तेज हो और राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे पर व्यापक चर्चा भी हो. इस बार संसद का सत्र देशवासियों की नाराज़गी का कारण बना.राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति जी ने भी नाराज़गी व्यक्त की.
संसद के हंगामे और हल्ले के बीच एक उत्तम और सराहनीय काम भी हुआ,जिस की बहुत चर्चा नही हुई दिव्यांग-जनों से जुड़ा बिल पारित हो गया. इसके लिये मैं सभी सांसदों का आभार व्यक्त करता हूं दिव्यांगों के लिए हमारी सरकार समर्पित है. मैंने निजी तौर पर भी इसे लेकर मुहिम को गति देने की कोशिश भी की है. हमारे प्रयासों को दिव्यांग भाई-बहनों ने मज़बूती दी, जब वे पैरालिंपिक्स में 4 मेडल जीते. उन्होंने इस जीत से लोगों को आश्चर्यचकित किया. हर नागरिक की तरह हमारी एक अनमोल विरासत हैं, अनमोल शक्ति है.
कानून सबके लिए बराबर है. किसी को भी छूट नहीं मिलनी चाहिए.पीएम ने बताया कि बार-बार नियम बदलने के मामले में सरकार जनता से फीडबैक लेती रहती है और जिन नियमों में बदलाव होते हैं वह उन्हीं के आधार पर होते हैं.
पिछले दिनों विश्व के अर्थ-मंच पर भारत ने अनेक क्षेत्रों में अपना नाम बड़े गौरव के साथ दर्ज करवाया है हमारे देशवासियों के लगातार प्रयासों का फलस्वरुप अलग-अलग इंडीकेटर्स के ज़रिये भारत की वैश्विक रैंकिंग में बढ़ोतरी नजर आ रही है.
आइए एक नजर मे पढ़ें:
वर्ल्ड बैंक की #DoingBusinessReport में भारत की रैंकिंग बढ़ी है. हम भारत में बिजनेस प्रैक्टिस को दुनिया के बेस्ट प्रैक्टिस के बराबर बनाने का तेज़ी से लगातार प्रयास कर रहे हैं और सफलता भी मिल रही है.
UNCTAD द्वारा जारी #WorldInvestmentReport अनुसार टॉप प्रोस्पैक्टिव होस्ट इकोनोमीज फॉर 2016-18 में भारत का स्थान तीसरा पहुंच गया है.
wef के #GlobalCompetitivenessReport में भारत ने 32 रैंक की छलांग लगाई. #GlobalInnovationIndex2016 में हमने 16 स्थानों की बढ़त ली.
WorldBank के अनुसार #LogisticsPerformanceIndex 2016 में 19 रैंक की भी बढ़ोतरी हुई. भारत तेज़ी से आगे बढ़ रहा है.

पीएम ने छापेमारी में पकड़े गए लोगों पर हुई कार्रवाई का श्रेय देश के जागरूक नागरिकों को दिया पीएम ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई की तो अभी शुरुआत है. ये पूर्णविराम नहीं है.
उन्होंनें खेल जगत की उपलब्धियों पर कहा कि खेल मैदान से ऐसी ख़बरें आईं जिसने हमें गौरवान्वित किया. भारतीय होने के नाते हमें गर्व होना बहुत स्वाभाविक है.
पीएम ने कहा 2017 के वर्ष के लिये मेरी तरफ़ से सभी देशवासियों को अनेक-अनेक शुभकामनायें. बहुत-बहुत धन्यवाद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *