मोदी सरकार के तीन साल: पीएम मोदी ने किया भारत के सबसे लंबे पुल का उद्घाटन , पढ़ें खास 10 खास बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार के तीन साल पूरे होने पर शुक्रवार को देश के सबसे लंबे नदी पुल ढोला-सादिया सेतु का उद्घाटन करने के बाद उसका नामकरण राज्य के विश्वप्रसिद्ध गायक-संगीतकार भूपेन हज़ारिका के नाम पर करने की घोषणा की

देखे लाइव :

इसको चीन भारत सीमा पर, खास तौर पर पूर्वोत्तर में भारत की रक्षा जरूरतों को पूरा करने की कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है. इसके अलावा यह पुल अरूणाचल प्रदेश और असम के लोगों के लिए हवाई और रेल संपर्क के अलावा सड़क संपर्क भी आसान बनाएगा.

 

पढ़े इस पुल से जुड़ी खास बातें :-

  • धोला-सादिया पुल का निर्माण ब्रह्मपुत्र नदी की सहायक लोहित नदी पर किया गया है.

 

  • असम में यह सादिया में स्थित है जो राज्‍य की राजधानी गुवाहाटी से 540 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. इस पुल का दूसरा सिरा धोला में है जो कि अरुणाचल प्रदेश की राजधानी इटानगर से करीब 300 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है.

 

  • इसकी लंबाई 9 किलोमीटर से थोड़ी अधिक है और इस तरह ये मुंबई के मशहूर बांद्रा-वर्ली सी लिंक से 30 फीसदी ज्‍यादा लंबा है. इसके एक बार शुरू हो जाने के बाद असम और अरुणाचल प्रदेश के बीच यात्रा का समय करीब 4 घंटे कम हो जाएगा. वर्तमान में अरुणाचल में कोई भी हवाई अड्डा कार्यरत नहीं है.

 

  • इसका निर्माण 2011 में शुरू हुआ, तब राज्‍य में कांग्रेस सत्ता में थी. इस परियोजना की लागत करीब 950 करोड़ रुपये है.

 

 

  • अरुणाचल प्रदेश और असम के बीच सड़क संपर्क बहुत अच्‍छा नहीं है. वर्तमान में असम के इस हिस्‍से से अरुणाचल प्रदेश जाने वालों के लिए नाव ही एक मात्र सहारा है.

 

  • इसका सेना के लिए बड़ा रणनीतिक महत्‍व है. इस पुल के इस्‍तेमाल से चीन की सीमा से लगे अरुणाचल प्रदेश में सैनिकों का पहुंचना कहीं ज्‍यादा आसान हो जाएगा.

 

  • पुल को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि इस पर सेना के टैंक भी आसानी से गुजर सकें.

 

 

  • सेना की टुकड़ी असम के तिनसुकिया से अरुणाचल प्रदेश में प्रवेश करती है लेकिन वर्तमान में उस इलाके में ऐसा कोई भी मजबूत पुल नहीं है जिसे पार कर के टैंक वहां पहुंच सकें.

 

 

  • इसका निर्माण चीन की सीमा से लगे अरुणाचल प्रदेश में सड़क संपर्क को बेहतर बनाने के लिए साल 2015 में केंद्र सरकार द्वारा दिए गए 15000 करोड़ के पैकेज का हिस्‍सा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *