शशिकला ने ओ. पन्नीरसेल्वम को पार्टी के कोषाध्यक्ष पद से हटाया, कहा – नहीं बनाया कोई दबाव

तमिलनाडु में राजनीतिक हालात लगातार गंभीर होते जा रहे हैं. मंगलवार को ओ.पन्नीरसेल्वम के अन्नाद्रमुक पार्टी की महासचिव वीके शशिकला के खिलाफ बगावत के सुर खुल कर सामने आ गए. मंगलवार रात करीब 10.30 बजे पन्नीरसेल्वम ने ये आरोप लगाया कि पार्टी महासचिव वीके शशिकला ने रविवार को उन्हें इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया था. उन्होंने मीडिया से ये भी कहा कि पार्टी कैडर और राज्य के लोगों की मांग पर वह इस्तीफा वापस भी लेने को तैयार हैं. उधर, शशिकला पर पन्नीरसेल्वम द्वारा लगाए आरोपों के तुरंत बाद शशिकला के आवास पोस गार्डेन पर आपातकालीन बैठक बुलाई गई. जिसमें  देर रात शशिकला ने पन्नीरसेल्वम को अन्नाद्रमुक के कोषाध्यक्ष पद से हटा दिया. डिंडीगुल श्रीनिवासन को नया कोषाध्यक्ष नियुक्त किया गया है.

अन्नाद्रमुक नेता और लोकसभा डिप्टी स्पीकर एम थम्बीदुरई ने ओ.पन्नीरसेलवम के इस दावे को खारिज करते हुए कहा कि ये बात गलत है कि उन्हें मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया गया है. उन्होंने कहा कि पार्टी महासचिव वीके शशिकला ही मुख्यमंत्री होंगी क्योंकि सभी विधायक दल के सभी नेता उनके (चिनम्मा के) साथ खड़े हैं. अन्नाद्रमुक नेता ने कहा कि सभी विधायक एकजुट हैं.सभी विधायक अंदर मौजूद हैं।

इस के बीच शशिकला देर रात में अपने समर्थकों के बीच में आईं और कहा कि ऐसा लग रहा है कि पन्नीरसेल्वम किसी के इशारे पर काम कर रहे हैं. पार्टी में किसी तरह का कोई विवाद नहीं है. मैंने किसी काम के लिए उन पर यानी (पन्नीरसेल्वम) पर दबाव नहीं बनाया. वो जो भी कह रहे हैं, वो सरासर गलत है. पार्टी के सभी विधायक एकजुट है, हम एक परिवार की तरह काम कर रहे हैं. शशिकला ने कहा कि जो भी पन्नीरसेल्वम ने कहा उसके पीछे विपक्षी पार्टी डीएमके का हाथ है. शशिकला ने पन्नीरसेल्वम को पार्टी के सभी पदों से हटाने की भी बात कही.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *