BMC में शासन के लिए शिवसेना एवं बीजेपी के पास गठबंधन के अलावा कोई विकल्प नहीं : नितिन गडकरी

बीएमसी चुनाव में जनादेश आने के बाद बीजेपी के वरिष्ठ नेता नितिन गडकरी ने कहा कि मुंबई नगर निगम पर नियंत्रण के लिए उनकी पार्टी और शिवसेना के पास गठबंधन के अलावा कोई और विकल्प नहीं है. गडकरी ने कहा, अब स्थिति ऐसी है कि दोनों पार्टियों के लिए साथ आने के अलावा और कोई विकल्प नहीं है. उन्होंने बताया, इस बारे में अंतिम निर्णय मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे को ही लेना है. दोनों परिपक़्व नेता हैं और मुझे पूरा विश्वास है कि वे सही निर्णय लेंगे. गडकरी ने एक मराठी टीवी चैनल को दिये इंटरव्यू में कहा, मुझे लगता है कि दोनों पार्टियों के नेता सूझबूझ और परिपक़्वता का परिचय देते हुए एवं लोगों के जनादेश को ध्यान में रखकर ही फैसला लेंगे. नितिन गडकरी ने शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को निशाना बनाने की आलोचना की.
गडकरी बोले कि, अगर शिवसेना की हमारे यानी भाजपा के साथ मित्रता रहेगी तो सामना में लिखी जा रही बातें नहीं लिखी जानी चाहिए. ऐसे में कैसे दोस्ती हो सकती है जब शिवसेना के मुखपत्र सामना में रोजाना प्रधानमंत्री और हमारी पार्टी अध्यक्ष के बारे में अपमानजनक बातें लिखेगा?’ गडकरी ने बताया, ‘मुझे लगता है कि भाजपा और शिवसेना के बीच इतनी कड़वाहट नहीं आई है कि इन चीजों से बचा नहीं जा सकता. उन्होंने कहा कि शिवसेना को ध्यान रखना चाहिए कि दोनों पार्टियों के बीच सामना के कारण संबंध खराब नहीं होने चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *