नहीं रही तमिलनाडु की अम्मा, पूरे देश मे शोक की लहर

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता का सोमवार रात 11.30 बजे निधन हो गया। निधन की खबर की पुष्टि चेन्नई के अपोलो अस्पताल ने की है। स्थानीय मीडिया ने लगभग 6 बजे निधन हो जाने की पुष्टि की थी, मगर अपोलो अस्पताल ने उस वक्‍त निधन की खबर को खारिज कर दिया था और कहा था, कि उनका इलाज चल रहा है, उनकी हालात बेहद नाजुक है। करीबन 6 बजे ही AIADMK हेडक्वार्टर पर पार्टी ने झंडा झुकाया दिया था, मगर एक फिर झंडा को ऊपर किया गया है।
अपोलो अस्‍पताल द्धारा दी गई जानकारी के अनुसार, जयललिता को रविवार दोपहर करीबन तीन बजे दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद चेन्नई के अपोलो अस्पताल में विशेष डॉक्टरों की टीम उनका इलाज कर रही थी।  दिल का दौरा पड़ने के बाद उन्‍हें एक बार फिर सीसीयू में हार्ट असिस्ट डिवाइस पर रखा गया था। सोमवार सुबह जयललिता की एंजियोप्लास्टी की गई, मगर उसके बावजूद भी उन्हें नहीं बचाया जा सका। सोमवार सुबह दिल्‍ली से एम्‍स डॉक्‍टरों की विशेष टीम जयललिता के इलाज के लिए पहुंची थी। वहीं दूसरी तरफ  लंदन के 'डॉ रिचर्ड बील' से भी संपर्क किया जा रहा  था।
सीएम जयललिता के निधन की खबर मिलते ही पूरे देश में शोक लहर दौड़ गई है। निधन की खबर मिलते ही चेन्नई में अपोलो अस्पताल के बाहर समर्थकों के आंसू रुकने के नाम नही ले रहे हैं। रविवार शाम से ही पूरा देश अम्मा की सलामती के लिए हाथ जोड़कर दुआ कर रहा था।,इसके चलते पूरे तमिलनाडु राज्य में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए अपोलो अस्पताल के बाहर 200 सुरक्षाबलों तैनाती कर दी गई है। राज्य के दूसरे हिस्सों में अर्द्धसैनिक बलों को अलर्ट पर रहने का आदेश जारी कर दिया गया है।
आप को बता दें, 22 सितंबर से जयललिता अपोलो के अस्पताल में भर्ती थी । उसके बाद से कई बार यह जानकारी गई थी, कि सेहत में सुधार हो रहा है। जयललिता को  बुखार और डीहाइड्रेशन की शिकायत के चलते चेन्‍नई के अपोलो अस्‍पताल में भर्ती किया गया था। मगर फिर बाद में जयललिता को सांस लेने में भी दिक्कत होने लगी थी। एंटीबायोटिक दवाओं और अन्य चिकित्सीय उपायों सहित एक ही दिशा में उनका उपचार जारी रखा जा रहा था।

One thought on “नहीं रही तमिलनाडु की अम्मा, पूरे देश मे शोक की लहर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *