हे माँ,मेरे दुश्मन को हार्टअटैक या एक्सीेडेंट में मार दो…मैं दर्शन को आऊंगा

नोटबंदी के इस दौर में इंसान अब मंदिरो की दान पेटियो में नोट डालने में असमर्थ है , लेकिन वो भगवान को निराश नहीं कर रहा है,आजकल लोग मंदिरो की दान पेंटियो को अपनी अर्जी डाल कर भर रहे है,और अर्जी भी कोई छोटी नही हैं कोई किसी के हार्ट अटैक की कामना कर रहा है, तो कोई अपने दुश्मन को एक्सीडेंट मे मारने की मंगल कामना की अर्जी लगा रहा है और सबसे एहम बात ये है की उसके बाद भगवान को ऐसा गज़ब का लालच दिया जा रहा है मानो,ईश्वर आम आदमी हो गया है और ये अर्जी लगाने वाले सलमान खान, या बाकि स्टार जिनसे मिलने को ईश्वर सच में बेकरार है,
दैनिक भास्कर की ये रिपोर्ट 14-12-2016 यानि बुधवार को छपी, इस खबर का ओरिजनल फोटो भी हमने स्टोरी के साथ अटैच किया है, पढिये और इन भक्तो का शुक्रिया कीजिये, ऐसी प्राँथनाए करने वाले कोई और नही है

jld-a4392502-largeये हमारे जैसे ही लोग है, जो अपनी इछाओ की पूर्ति के लिए नोटबंदी से पहले नोट दान पेटी में डालकर हिसाब किताब बराबर करके अपने दुश्मनो की मौत और एक्सीडेंट की कामना ईश्वर से करते थे
अब जमाना बदल गया है और शायद इनके नजरिये भगवान भी
खैर,ये वाक्या दतिया में माँ पीतांम्बरा पीठ का है,दतिया में पीतांम्बरा माता की दान पेटी में भक्त अक्सर अर्जिया डालते है, लेकिन नोटबंदी के बाद दान पेटियो में नोट की जगह अर्जियों ही डाल रहे है,इस शक्ति पीठ की दान पेटी 15 दिन में खुलती है और इस बार खुली तो 115 अर्जिया थी,
इसमें 6 अर्जिया दुश्मन को मारने एवं 5 उधारी दिलवाने की है,मंदिर प्रशासन का कहना है मंदिर में भक्त माँ से मन्नत पूरी होने के लिए अर्जी लगाते है,लेकिन इस बार अर्जिया ही सबसे ज्यादा मिली !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *