स्‍नैपडील को फ्लिपकार्ट और अमेजॉन से मिली कड़ी टक्कर, 600 कर्मचारियों की छटनी

भारत की ई-कॉमर्स वेबसाइट स्‍नैपडील अपने करीबन 600 कर्मचारियों की छटनी करने वाली है. साथ ही कंपनी के फाउंडर्स की भी सैलरी कम करने वाली है. स्‍नैपडील को लगातार फ्लिपकार्ट और अमेजॉन से कड़ी टक्कर मिल रही है.

ई-कॉमर्स वेबसाइट स्‍नैपडील के सीईओ कुनाल बहल ने कहा है, कि कंपनी ने पहले कुछ गलतियां की हैं, जिस की वजह से यह कड़ा फैसला लेना पड़ रहा है. कंपनी को एक बार फिर से फायदे में लाने के लिए ऐसा करने की ज़रूरत पड़ रही है.

कंपनी के सीईओ ने अपने सभी कर्मचारियों को एक ईमेल भेजा है, जिसमें लिखा है, कि ‘हम कंपनी की ग्रोथ पर ध्यान केंद्रित करने के लिए बाकि दूसरे प्रोजेक्ट जो मुख्य नहीं हैं, उन्हें खत्म कर रहे हैं. इसी वजह से हम टीम जोड़ रहे हैं और लेयर्स कम कर रहे हैं’. साथ ही उस ईमेल में लिखा है, कि ‘इस प्रक्रिया में हमें बड़े दुख के साथ अपने कुछ सहकर्मियों को अलविदा कहते हैं. इन्हें गुडबाय कहना बहुत दर्द भरा है’.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, स्‍नैपडील और इसकी लॉजिस्टिक्स बिजनेस वॉल्कन एक्सप्रेस, डिजिटल पेमेंट यूनिट फ्रीचार्ज से करीबन 600 लोगों को निकाला जा रहा है.

कुनाल बहल का यह भी कहना है, कि स्‍नैपडील के को-फाउंडर रोहित बंसल भी अपनी सैलरी कम कर रहे हैं, ताकि कंपनी को एक बार फिर ट्रैक पर ला सकें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *