‘डॉ. शूर्होज़ेली लाइज़ेत्सु’ होंगे नागालैंड के नए मुख्‍यमंत्री

अरुणाचल प्रदेश और तमिलनाडु के बाद नागालैंड में भी चल रहे राजनीतिक जंग के बीच ये तय हो गया है, कि ‘डॉ. शूर्होज़ेली लाइज़ेत्सु’ नागालैंड के नए सीएम होंगे. शूर्होज़ेली अभी नागालैंड डेमोक्रेटिक एलाइंस के चेयरमैन हैं.

दरअसल, रविवार को सीएम टीआर जेलियांग के खिलाफ पार्टी विधायकों ने बगावत कर के नेफ्यू रियो को अगला सीएम चुन लिया था.

आइए जानें क्‍या है नागालैंड का पूरा मामला.

नागालैंड के शहरी निकाय चुनाव में महिलाओं को 33% आरक्षण देने के खिलाफ नागा गुटों के हिंसक आंदोलन के बाद से ही टीआर जेलियांग के खिलाफ बगावती सुर उठने लगे थे. नागा विद्रोही गुट जेलियांग के इस्तीफे की मांग पर अड़े हुए थे. ऐसे हालातों को देखते हुए चर्चा के लिए सत्ताधारी नागा पीपल्स फ्रंट (एनपीएफ) के विधायकों ने शनिवार को पड़ोसी राज्य असम स्थित काजीरंगा नेशनल पार्क में बैठक की थी.

असम में हुई बैठक में शामिल अधिकांश विधायक नागा गुटों के विरोध प्रदर्शनों को ठीक ढंग से संभाल नहीं पाने के चलते जेलियांग को सीएम पद से हटाने की मांग की.

आप को बता दें, 60 सदस्यीय नागालैंड विधानसभा में एनपीएफ के 49 विधायक हैं, जिनमें से करीबन 40 विधायक इस बैठक में शामिल हुए थे. वह अधिकांश विधायकों ने नेफ्यू रियो को मुख्‍यमंत्री बनाए जाने पर सहमति दी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *