बीजेपी नेता एन बीरेन सिंह ने ली मणिपुर में मुख्यमंत्री पद की शपथ

देश के पूर्वोत्तर राज्‍य मणिपुर में पहली बार बीजेपी की सरकार बन गई. 56 साल के कांग्रेस नेता एन बीरेन सिंह ने बुधवार को राज्‍य में बीजेपी की अगुवाई में पहली बार बनने वाली सरकार के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ले ली. इससे पहले बीरेन कांग्रेस के नेतृत्‍व वाली सरकार में मंत्री पद संभाल चुके हैं. पिछले साल अक्‍टूबर में ही वे कांग्रेस से इस्‍तीफा देकर बीजेपी में शामिल हुए थे. वे नेशनल स्तर के फुटबॉलर रह चुके हैं. बाद में उन्‍होंने जर्नलिज्म में करियर बनाया. 2002 में बीरेन सिंह ने अपने पहले राजनीतिक सफर की शुरुआत क्षेत्रीय पार्टी, डेमोक्रेटिक पीपुल्‍स पार्टी से की. वे राज्‍य की हेनगांग विधानसभा सीट से विधायक चुने गए. वर्ष 2004 के विधानसभा चुनाव से पहले इस पार्टी का विलय कांग्रेस पार्टी में हो गया. साल 2007 और 2012 में हुए चुनाव में भी उन्होंने जीत हासिल की. बीरेन मंत्री के रूप में राज्‍य के कई विभागों का कार्यभार संभाल चुके हैं. बीरेन एक समय मणिपुर के निवर्तमान मुख्यमंत्री इबोबी सिंह के खास सहयोगी थे.

वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में भी बीरेन सिंह हेंनगांग सीट से चुनाव जीते हैं. उन्होंने तृणमूल कांग्रेस के पांगीजम सरतचंद्र सिंह को शिकस्‍त दी है. 60 सदस्यीय मणिपुर विधानसभा में कांग्रेस ने 28 और भाजपा ने 21 सीटें जीती हैं. दोनों बहुमत से दूर हैं. लेकिन अन्य छोटे दलों, एक निर्दलीय और कांग्रेस के एक विधायक के समर्थन से भाजपा ने 32 विधायकों का समर्थन जुटा लिया है, जो सरकार गठन के लिए पर्याप्त है. बीजेपी विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद बीरेन ने कहा, 'मैं पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी नेतृत्‍व को धन्‍यवाद देता हूं. मैंने कांग्रेस सरकार के कुशासन का विरोध करते हुए इस पार्टी को छोड़ा था. मैं आश्‍वस्‍त करता हूं कि पीएम मोदी के मार्गदर्शन में राज्‍य में हमारी सरकार अच्‍छा शासन देगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *