लेफ्टिनेंट जनरल ‘बिपिन रावत’ होगें नए सेना अध्‍यक्ष

वर्तमान समय में उप थल सेना के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल 'बिपिन रावत' देश के अगले सेना अध्यक्ष बन गए है. अभी वह थलसेना सहसेनाध्यक्ष के पद पर कार्यरत हैं. साथ ही उप वायुसेना के प्रमुख 'मार्शल बीएस धनोआ' को भार‍तीय वायुसेना का नया प्रमुख बनाया गया है. लेफ्टिनेंट जनरल 'बिपिन रावत' से पहले सेना अध्‍यक्ष का पद लेफ्टिनेंट जनरल 'दलबीर सिंह' संभाल रहे थे. जनरल 'बिपिन रावत' 23 दिनों बाद अपनी नई ज़िम्मेदारी संभालेंगे.

मार्शल बीएस धनोआ

रक्षा मंत्रालय ने एक ट्वीट करके यह जानकारी दी है, कि ' केन्‍द्र सरकार ने उप थल सेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल बिपिन रावत को नया सेना अध्‍यक्ष नियुक्त करने का फैसला किया गया है और यह नियुक्ति 31 दिसंबर दोपहर के बाद से प्रभावी होगी'. साथ ही मंत्रालय ने एक ट्विट कर के यह भी जानकारी दी कि उप वायुसेना के प्रमुख 'एयर मार्शल बीएस धनोआ' 31 दिसंबर दोपहर के बाद से वायु सेना प्रमुख का कार्यभार संभालेंगे'
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, सभी लेफ्टिनेंट जनरलों में से लेफ्टिनेंट जनरल 'बिपिन रावत' को उत्तर में पुनर्गठित सैन्य बल, लगातार आतंकवाद, पश्चिम से छद्म युद्ध, पूर्वोत्तर में हालात और साथ उभरती सभी चुनौतियों से निपटने के लिए सर्वाधिक उचित पाया गया है. साथ रावत के पास पिछले तीन दशकों से भारतीय सेना में विभिन्न कार्यात्मक स्तरों पर और युद्ध क्षेत्रों में सेवाएं देने का बेहतरीन व्यावहारिक अनुभव भी है.
दरअसल, लेफ्टिनेंट जनरल रावत ने अपनी पारिवारिक विरासत को आगे बढ़ाते हुए ही इस पद पर पहुंचे हैं. इन से पहले उनके पिता लेफ्टिनेंट जनरल 'एलएस रावत' सेना में डिप्टी चीफ के पद से रिटायर्ड हुए थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *