BAAHUBALI-2 : क्यों देखनी चाहिए बाहुबली, जानें 5 खास कारण

फिल्म निर्देशक एसएस राजामौली की फिल्‍म 'बाहुबली : द कॉनक्ल्यूजन' की रिलीज का जिन-जिन दर्शकों को बेसब्री से इंतजार है, आज वह वक्त आ गया है. 2015 में आई फिल्म 'बाहुबली : द बिगनिंग' की अपार सफलता से लोगों को इस फिल्‍म के दूसरे भाग से काफी उम्‍मीदें हैं. आज यानी शुक्रवार को फिल्म 'बाहुबली : द कॉनक्ल्यूजन' रिलीज होने जा रही है. इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आखिर यह फिल्म आपको क्यों देखनी चाहिए? तो आइए, जानते हैं 'बाहुबली : द कॉनक्ल्यूजन' को देखने के पांच महत्वपूर्ण कारण-

कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा?
यह फिल्म देखने के पीछे हमारी सबसे बड़ी वजह यह होगी कि पिछले तीन सालों से जो सवाल हमारे अगल-बगल घूम रहा है, हमें उसका जवाब मिल जाएगा कि 'कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा?' शुक्रवार को थियेटर में इस बात का खुलासा हो जाएगा कि कि आखिर वह कौन सी वजह थी जिस कारण बाहुबली के मामा और उसके राज्य के रक्षक कटप्पा ने उसकी पीठ में तलवार मार दी थी.

फिल्म में इस्तेमाल कि गए विजुअल्स इफेक्ट
अगर आपको याद होगा तो फिल्म में जो पानी का झरना दिखाया गया था, वह दर्शकों के बीच काफी चर्चित हुआ था. दर्शक यह जानना चाहते थे कि आखिर ऐसा झरना कहां हैं? लेकिन, बाद में दर्शकों को जब यह पता चला कि वास्तव में ऐसा कोई झरना है ही नहीं, बल्कि वह तो सिर्फ एक विजुअल्स इफेक्ट था. इस फिल्म मे कई जगह विजुअल्स इफेक्ट का इस्तेमाल कर उसे काफी खूबसूरत बनाया गया था. वहीं, 'बाहुबली-2' के ट्रेलर को भी देखकर ऐसा ही ज्ञात होता है कि इस फिल्म को भी इसी तर्ज पर बनाया गया है. अगर आपने ट्रेलर देखा होगा तो इसकी शुरुआत आग के सीन से होती है, जिसके बाद आपको नगरी जलती हुई दिखाई देती है. इस सीन को अगर आप ध्यान से देखें तो इसमें भी विजुअल्स इफेक्ट का इस्तेमाल किया गया है, और उम्मीद है कि इसमें और भी कई जगह विजुअल्स इफेक्ट देखने को मिलेंगे.

फिल्म के दमदार डायलॉग्स
किसी भी फिल्म को बड़ा बनाने में उसके डायलॉग का बहुत बड़ा महत्व होता है. यह हमने हाल में आमिर खान की फिल्म 'दंगल' में देखा ही है कि किस तरह से उसके डायलॉग्स ने लोगों के दिलों नें जगह बनाई थी और फिल्म ने रिकॉर्ड तोड़ कमाई की थी. फिल्म के ट्रेलर का पहला डायलॉग भी ऐसा ही जबरदस्त है. जहां बाहुबली कहता सुनाई दे रहा है, ‘अमरेंद्र बाहुबली यानी के मैं, माहेष्मती की असंख्य प्रजा, धन, मान और प्राण की रक्षा करूंगा और इसके लिए अगर अपने प्राणों की आहुति भी देनी पड़े तो पीछे नहीं हटूंगा. राजमाता शिवगामिनी को साक्षी मानकर मैं यह शपथ लेता हूं.’ जिसको सुनने के बाद आपके अंदर भी एक जुनून सा जाग जाता है और आपके रोंगटे खड़े हो जाते हैं. बॉलीवुड के ऐसे कई फिल्म आपको देखने को मिल जाएंगे, जिसने सिर्फ अपने डायलॉग्स के दम पर दर्शकों के बीच जगह बनाई है.

बाहुबली की ईमानदारी और भल्लालदेव की क्रूरता
फिल्म के ट्रेलर को देखकर हमें यह अंदाजा लग गया है कि फिल्म में इस बार लोगों को बाहुबली की ईमानदारी और कर्तव्यपरायणता का एक अलग ही रूप देखने को मिलेगा, जहां वह अपने राज्य की प्रजा के लिए जान भी देने के लिए तैयार है, वहीं लोगों को भल्लालदेव की क्रूरता का भी एक अलग ही स्तर देखने को मिलेगा, जहां वह राज्य पर अपना नियंत्रण करने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार है.

बाहुबली और देवसेना की प्रेमकहानी
'बाहुबली-2' के ट्रेलर के कुछ सीन हमें बाहुबली और देवसेना की प्रेमकहानी की भी झलक दिखा जाते हैं. लोगों को जहां पिछली बार शिव और अवन्तिका की प्रेमकथा देखने को मिली थी, वहीं इस बार लोगों को बाहुबली की कहानी देखने को मिलेगी. साथ ही लोगों को इस बार यह भी पता चलेगा कि आखिर ऐसा क्या हुआ था कि भल्लालदेव  ने देवसेना को सालों-साल बंदी बना रखा था.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *