मोदी ने नारा दिया था ‘न खाऊंगा न खाने दूंगा’, मगर अब है ‘खाओ-पियो’- सुरजेवाला’

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू पर कांग्रेस ने घोटाले का गंभीर आरोप लगाया है. अरुणाचल प्रदेश में एक बड़े हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के निर्माण में 450 करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप लगाया है. किरण रिजिजू, उनके चचेरे भाई, ठेकेदार गोबोई रिजिजू, नॉर्थ ईस्टर्न इलेक्ट्रिक पॉवर कॉरपोरेशन के मैनेजिंग डायरेक्टर और कॉरपोरेशन के कई अफसरों के खिलाफ सार्वजनिक उपक्रम की कंपनियों के चीफ विजिलेंस अफसर सतीश वर्मा ने 129 पेज की रिपोर्ट सीवीसी, सीबीआई और ऊर्जा मंत्रालय को भेजी है और कई सवाल खड़े किए है.
रिजिजू ने कांग्रेस के द्वारा लगे गए सभी आरोपों से साफ इनकार करते हुए कहा, कि जो न्यूज प्लांट कर रहे हैं, अगर हमारे यहां आएंगे तो जूते खाएंगे. क्या लोगों की सेवा करना भ्रष्टाचार है? साथ ही किरण ने कहा है, कि एक स्थानीय ठेकेदार की अर्जी पर ऊर्जा मंत्रालय को खत लिखा गया था, मगर किसी घोटाले की जानकारी नहीं है. लेकिन अगर कोई घोटाला हुआ है तो उसकी गहराई से जांच की जाए.
घोटले में नाम आने के बाद से कांग्रेस ने केंद्र सरकार से गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू का इस्‍तीफा मांगा है. कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता 'रणदीप सुरजेवाला' ने कहा है, कि किरण रिजिजू  ने पद का दुरुपयोग किया है, अरुणाचल के हाइड्रो प्रोजेक्‍ट मामले पर रिजिजू से इस्‍तीफा मांगा जाना चाहिए या फिर उन्‍हें सैक कर देना चाहिए. इस मामले पर बोलते हुए सुरजेवाला ने यह जानकारी दी है, कि हाइड्रो प्रोजेक्‍ट मामले में हमारे पास रिजिजू के खिलाफ ऑडियो प्रूफ हैं. सत्‍ता में आने से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने नारा दिया था 'न खाऊंगा न खाने दूंगा', मगर आज ये हो गया है 'खाओ-पियो'.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *