आम आदमी पार्टी का फैसला : दिल्ली सरकार के मंत्री और अफसर रोज करेंगे दिल्ली वालों से मुलाकात

दिल्ली की सत्ता पर बैठी आम आदमी पार्टी को समझ आ गया है कि दिल्ली में हाल ही हुए एमसीडी चुनावों में आम आदमी पार्टी की बड़ी हार का कारण EVM मशीन  नहीं, बल्कि जनता से बढ़ती दूरी थी पार्टी ने इसलिए अब फैसला किया है कि सोमवार से शुक्रवार सभी सरकार के सभी मंत्री, मुख्यमंत्री और अफसर किसी भी पहले से तय अप्वाइनमेंट के बिना जनता से सुबह 10 से 11 बजे मिलेंगे.

 

 

 

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने फैसले की जानकारी देते हुए बताया कि हम पिछले कुछ दिनों लोगों के बीच जा रहे हैं और ये बात निकल कर आ रही है कि लोग दिल्ली सरकार के मंत्रियों और अफसरों से मिलना चाह रहे हैं. लेकिन पिछले कुछ समय से सरकार का जनता से कुछ 'डिसकनेक्ट' हुआ है, इसी कमी को पूरा करने के लिए अब दिल्ली के सभी मंत्री, अफ़सर रोज़ाना सुबह 10-11 बजे जनता से बिना अपॉइंटमेंट मिलेंगे सभी सीनियर अफ़सर, या मंत्रियों को ये हिदायत दी गई हैं कि सोमवार से शुक्रवार कोई दूसरीं मीटिंग नहीं रखेगा सिर्फ जनता से मिलेगा.

 

 

 

उप मुख्यमंत्री ने बताया कि इसके लिए सीएम साहब ने दिल्ली के चीफ सेक्रेटरी को इसकी व्यवस्था करने को कहा है और 1 जून से इसको लागू करने की योजना है.

 

सिसोदिया से पूछा गया कि पहले आम आदमी पार्टी दिल्ली में अपनी हार के लिए EVM को ज़िम्मेदार ठहरा रही थी और अब मान रही है कि जनता से डिसकनेक्ट इसका कारण था तो कितनी ज़िम्मेदार EVM को आप मानते हैं और कितना जनता से दूरी को? सिसोदिया ने इस सवाल के जवाब में कहा कि 'ये तो सरकार की ज़िम्मेदारी है'.
बीते रविवार को दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने अपने सभी मंत्रियों विधायकों को रोज़ सुबह 10 बजे जनता से बिना अपॉइनमेंट मिलने का आदेश दिया था जिसको अमली जामा पहनाते हुए दिल्ली सरकार ने इसमें अफसरों को शामिल कर दिया है.

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *